Capricorn (मकर)

मकर राशि के जातकों को पूरे वर्ष कुछ मिले-जुले परिणाम प्राप्त होंगे। जनवरी से मार्च के मध्य आपकी राशि से द्वादश भाव में प्रमुख ग्रह – सूर्य बृहस्पति, शनि, केतु, बुध विराजमान रहेंगे। 24 जनवरी को शनि आपकी राशि मकर में प्रवेश कर जायेगा। अतः धन संबंधी कार्यों में सतर्क रहें। बिना जानकारी के कोई भी कार्य नहीं करना है। किसी अजनबी पर भी ज्यादा विश्वास न करें।

मकर राशि वालों के लिए शनि की ढैया ज्यादा नुकसान नहीं करेगी, बस सिर्फ सावधानी बरतने की बात करती है।

अप्रेल से जून के मध्य बृहस्पति भी मकर राशि में आ जायेंगे और शनि के साथ युति बनायेंगे। शनि के साथ यह युति बृहस्पति का नीचभंग करती है। किसी भी उलझे कार्य को सुलझाने के लिए यह उचित समय है। पारिवारिक मसले हल होंगे। जीवन साथी के साथ संबंध अच्छे होंगे। सिर्फ आत्ममंथन करने की जरूरत है।

जुलाई से 20 नवम्बर के मध्य बृहस्पति पुनः वक्री होकर द्वादश भाव में धनु राशि में विचरण करेगा। राहू 19 सितम्बर से वृष राशि में और केतु वृश्चिक राशि में विचरण करने लगेंगे। आत्म निरीक्षण के लिए यह बेहतरीन समय है। योग और आध्यात्म का सहारा लेंगे तो आपके मनोबल में निरंतर निखार आयेगा।

20 नवम्बर से दिसम्बर अंत तक बृहस्पति और शनि की युति मकर राशि में बनेगी। यह ग्रह गोचर पुनः यह हिदायत देता है कि असावधानीवश लिए गये कार्यों में नुकसान होगा। अतः सभी कार्यों को योजनाबद्ध तरीके से ही करें। स्वास्थ्य का भी विशेष ध्यान रखना चाहिए।